Economy

SVB Crisis: रेटिंग एजेंसी मूडीज ने First Republic समेत अमेरिका के 6 बैंकों को डाउनग्रेड किया


SVB Crisis: रेटिंग एजेंसी मूडीज ने First Republic समेत अमेरिका के 6 बैंकों को डाउनग्रेड किया

अमेरिकी बैंकों के खराब प्रदर्शन पर मूडीज एक्शन में.

नई दिल्ली:

सिलिकॉन वैली बैंक डूबने के बाद अब अमेरिका के 6 और बैंकों पर खतरा मंडराने लगा है. इसे देखते हुए रेटिंग एजेंसी मूडीज (Rating Agency Moodys) ने अमेरिका के 6 बैंकों की रेटिंग को घटाने के लिए  पुनरिक्षण कैटेगरी में डाल दिया है. मूडीज ने जिन बैंकों को रिव्यू में रखा है, उनके नाम इस प्रकार हैं. फर्स्ट रिपब्लिक बैंक (First Republic Bank), जायंस बैंकॉर्प (Zions Bancorp.), वेस्टर्न अलायंस बैंकॉर्प (Western Alliance Bancorp), कॉमेरिका इंक (Comerica Inc.), UMB फाइनेंशियल कॉर्प (UMB Financial Corp.), इंट्रस्ट फाइनेंशियल कॉर्पोरेशन (Intrust Financial Corp.)

यह भी पढ़ें

इधर मूडीज ने इन बैंकों की रेटिंग में बदलाव की तैयारी की, उधर बैंकों के शेयरोें में भारी गिरावट देखी जा रही है. अमेरिकी बाजार में बैंकों के शेयर 30 प्रतिशत तक गिर गए हैं. अमेरिकी बैंक शेयरों में आई तेज गिरावट को देखते हुए मूडीज ने इन 6 बैंकों की रेटिंग को डाउनग्रेड किया है. हालांकि अमेरिकी सरकार ने SVB के डिपॉजिटर्स को बचाने के लिए और लेंडर्स को सपोर्ट करने के लिए कोशिशें की हैं. मूडीज ने सिग्नेचर बैंक की रेटिंग भी घटा दी है और अपनी क्रेडिट रेटिंग वापस ले ली है.

बैंकिंग शेयर में बड़ी गिरावट 

जब से सिलिकॉन वैली बैंक के बंद होने की खबर आई, तभी से अमेरिकी बैंकों के शेयर में बड़ी गिरावट देखी गई है. 13 मार्च को सैन फ्रांसिस्को स्थित फर्स्ट रिपब्लिक बैंक के शेयर में रिकॉर्ड 62% की गिरावट रही, जबकि फीनिक्स स्थित वेस्टर्न अलायंस में 47% की गिरावट देखी गई. डलास का कोमेरिका 28% फिसल गया. इस वजह से वित्तीय संकट बढ़ने की आशंका पैदा हो गई है.

ये भी पढ़ें:-  Markets Today: फार्मा कंपनियों के शेयर चमके; बाजार में तेजी, Nifty 16,000 के ऊपर

मूडीज ने और क्या कहा?

मूडीज ने कहा कि अगर बैंक को अनुमान से ज्यादा डिपॉजिटी निकासी का सामना करना पड़ता है और लिक्विडिटी का बैकस्टॉप काफी नहीं होता है, तो बैंक को संपत्ति (एसेट) बेचने की जरूरत हो सकती है, जिससे नुकसान हो सकता है.

बता दें कि फर्स्ट रिपब्लिक बैंक ने पहले कहा था कि उसने फेडरल रिजर्व और जेपी मॉर्गन चेस एंड कंपनी से अतिरिक्त लिक्विडिटी तक एक्सेस के जरिए अपनी वित्तीय स्थिति को मजबूत किया है और विस्तार किया है.

Source link

Admin
TimesTrend: Hindi news (हिंदी समाचार) website, Latest Khabar, Breaking news in Hindi of India, World, Sports, business, film and Entertainment.
http://timestrend.in