Anokhi Duniya Career Latest News Latest Offers

विदेश में चार तो भारत में क्यों लगाए जाते हैं तीन ब्लेड वाले पंखे? जानें दोनों में क्या है अंतर


गर्मियों का सीजन आ चुका है. भारत में ज्यादातर शहरों में तापमान चालीस के ऊपर चुका है. गर्मी से बचने के लिए ज्यादातर घरों में पंखे लगे हुए हैं. आपने अक्सर घरों में जो पंखे देखे होंगे उसमें तीन ब्लेड लगे होते हैं. लेकिन अब मार्केट में कुछ ऐसे पंखे भी आने लगे हैं, जिसमें चार ब्लेड लगे होते हैं. चार ब्लेड वाले पंखे ज्यादातर विदेशों में देखने को मिलते हैं. लेकिन क्या आपने कभी ये जानने की कोशिश की है कि तीन और चार ब्लेड वाले पंखों में अंतर क्या है?

विदेशों में लगते हैं 4 ब्लेड वाले पंखे- जी हां, विदेशों में जैसे अमेरिका, रुस या ठंडे देशों में चार ब्लेड वाले पंखे लगाए जाते हैं. यहां यूं तो हर घर में एयरकंडीशनर लगा होता है. ऐसे में इन घरों में चार ब्लेड वाले पंखे एसी के सप्लीमेंट के तौर पर लगाए जाते हैं. यानी इनका इस्तेमाल कमरे में एसी की हवा फैलाने के लिए की जाती है.

3 and 4 blade fans

भारत में लगते हैं तीन ब्लेड वाले पंखे- वहीं भारत में आपको हर घर में तीन ब्लेड वाले पंखे मिल जाएंगे. यहां पंखों का इस्तेमाल कमरे में हवा के लिए की जाती है. घरों में एसी काफी कम लगे होते हैं. ऐसे में हवा के लिए इन पंखों को लगाया जाता है. चार ब्लेड के पंखों के मुकाबले तीन ब्लेड वाले पंखे हलके होते हैं और काफी तेज चलते हैं. इसी वजह से भारत में तीन ब्लेड वाले पंखे यूज होते हैं

3 and 4 blade fans

दोनों के बीच का अंतर- अब आपको बताते हैं तीन और चार ब्लेड वाले पंखों के बीच का अंतर. दरअसल, चार ब्लेड वाले पंखे तीन के मुकाबले ज्यादा बिजली खींचते हैं. ऐसे में बिजली की बचत के लिए भारत में ज्यादातर लोग तीन ब्लेड वाले पंखे यूज करते हैं. इसके अलावा मार्केट में चार ब्लेड वाले पंखे ज्यादा महंगे मिलते हैं. इस कारण लोग कम पैसों में तीन ब्लेड वाले पंखे ही खरीदना प्रेफर करते हैं.

ये भी पढ़ें:-  आश्रम 3 में सीन से पहले बॉबी देओल का हो गया था ऐसा हाल, ईशा गुप्ता को करना पड़ा ये काम - knowledgetour.in

Tags: Ajab Gajab, Khabre jara hatke, OMG, Weird news

Source link

Admin
TimesTrend: Hindi news (हिंदी समाचार) website, Latest Khabar, Breaking news in Hindi of India, World, Sports, business, film and Entertainment.
http://timestrend.in